Seekho Kamao Yojna : मध्यप्रदेश के युवाओ के लिए सुनहरा मौका, अब काम सीखने से साथ मिलेंगे 10000 की रूपये की सैलरी

CM Seekho Kamao Yojna : मध्य प्रदेश सरकार हमेशा ही मध्य प्रदेश वासियों के लिए कई शानदार योजनाएं लेकर आते रहते हैं वही इस बार मध्यप्रदेश सरकार ने मध्य प्रदेश युवाओं को एक बड़ी सौगात दी है ।जी हां,मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने “सीखो कमाओ” योजना शुरू की है जिसमें युवाओं को सीखने के साथ-साथ स्टाइपेंड भी दिए जाएंगे ।

 

हो गया है योजना का शुभारंभ :-

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के रविंद्र भवन में “सीखो कमाओ “योजना का शुभारंभ कर दिया है वहीं शुभारंभ के दौरान सीखो कमाओ योजना के पोर्ट्रेट पर शिवराज सिंह चौहान ने खुद एक युवक का रजिस्ट्रेशन करवाया ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इसके साथ ही साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस पोट्रेट के दौरान ना केवल युवाओं को रोजगार प्राप्ति के लिए मजबूत बनाया जाएगा बल्कि इसके साथ ही साथ उन्हें कौशल भी सिखाया जाएगा, इस योजना के तहत 12वीं पास छात्र ग्रेजुएशन एवं पोस्ट ग्रेजुएशन तथा किसी प्रकार के डिप्लोमा किए हुए छात्रों को कौशल एवं रोजगार की प्राप्ति होगी और इस योजना जरिए काम सीखने के बाद युवाओं को स्टाइपेंड भी दिया जाएगा ।

ये भी पढ़े :-

 

योजना के दौरान इतना होगा फायदा :- 

जानकारी के लिए आप सभी को बताए थे कि “सीखो कमाओ” योजना के तहत सरकार द्वारा अलग-अलग क्लास के अनुसार स्टाइपेंड की राशि प्रत्येक महीने दी जाएगी वही युवाओं को डीपीटी यानी कि डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर किया जाएगा , प्राप्त जानकारी के अनुसार अलग-अलग क्लास को इतने पैसे मुहैया करवाए जाएंगे :-

  • 12 वीं पास युवा – 8000 Rs
  • आईटीआई पास छात्रों को – 8500 Rs
  • डिप्लोमा पास धारक को – 9000 Rs
  • ग्रेजुएट अर्थात पोस्ट ग्रेजुएट छात्रों को – 10000 Rs

 

योजना के दौरान कर सकते हैं 700 स्ट्रीम में ट्रेनिंग:-

लाभ लेने वाले सभी युवाओं को इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि सीखो कमाओ योजना के दौरान कुल मिलाकर 700 कार्यों को स्वीकृति प्रदान की है जो कि इस प्रकार है :- ट्रैवल, अस्पताल, रेलवे, आईटीआई, सॉफ्टवेयर, बैंकिग, बीमा, लेखा, चार्टेड अकाउंटेंट ,इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स, मैकेनिकल, सिविल, मैनेजमेंट, होटल मैनेजमेंट, टूरिज्म शामिल है , साथ ही साथ अन्य वित्तीय सेवाओं के भी कई कार्यों को शामिल किया गया है इन कार्यों के दौरान युवाओं को महीने का स्टाइपेंड मुहैया कराया जाएगा ।

 

शिवराज सिंह चौहान ने युवाओं को किया मोटिवेट:-

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि चिड़िया अपने बच्चों को घोंसला नहीं बल्कि पंख देती है ताकि वे विकास और प्रगति की ऊंचाइयों को छू सके इस प्रकार देश के युवाओं को महंगाई भत्ता देना बेमानी होगी , इसके बदले उन्हें काम सिखाया जाए और उसके बदले पैसे दिए जाएं ताकि उनके स्थाई रोजगार की व्यवस्था हो जाए साथ ही साथ उनका कौशल आगे उनके जीवन में ऊंचाइयों को छूने में काम आए ।

Leave a Comment

error: Content is protected !!