SBI ने शुरू की नई सर्विस, सिर्फ आधार से हो जाएंगे ये काम, पासबुक से मिलेगा छुटकारा

सरकारी बैंक SBI ने एक नई सुविधा की शुरुआत की है, जिससे उसके करोड़ों ग्राहकों को फायदा होगा। इस सुविधा के जरिए, वे लोग जो किसी Social Security Scheme में शामिल होना चाहते हैं, तो वे सिर्फ आधार कार्ड से ही अपना नामांकन कर सकेंगे, अब उनके अपनी पासबुक ब्रांच में लेकर जाने की जरूरत नहीं होगी, इस तरह वो आसानी से आवेदन कर सकेंगे। यह सुविधा एसबीआई के ग्राहकों के लिए Social Security Scheme से जुड़ने की प्रक्रिया को सुगम और तेज बनाती है।

सुविधा का आयोजन SBI के CSP पर :-

State Bank of India ने इस सुविधा की शुरुआत 25 अगस्त को की। इसकी शुरुआत एसबीआई के चेयरमैन दिनेश खारा ने की। इससे एसबीआई के ग्राहक आधार कार्ड के माध्यम से सोशल सिक्योरिटी योजनाओं में पंजीकरण कर सकेंगे। यह सुविधा सभी बैंक के सीएसपी पर उपलब्ध होगी।

पासबुक की आवश्यकता नहीं :-

चेयरमैन खारा ने नई सुविधा को प्रस्तुत करते हुए यह कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य विभिन्न सोशल सिक्योरिटी योजनाओं में पंजीकरण की प्रक्रिया को सरल बनाना है। अब ग्राहकों को प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना और अटल पेंशन योजना जैसी योजनाओं में पंजीकरण के लिए सीएसपी पर पासबुक नहीं लेने की आवश्यकता रहेगी।

ये भी पढ़े :- SBI बैंक के इस रिटायरमेंट प्लान में मिल रहा है जबरदस्त लाभ, रिटायरमेंट के बाद भी मिलेगी सैलरी

उम्मीदें चेयरमैन खारा की :-

एसबीआई के चेयरमैन, दिनेश खारा ने यह आशा जताई है कि नई सुविधा के माध्यम से वित्तीय सुरक्षा प्राप्त करने की प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के साथ ही समाज के सभी वर्गों को सशक्त बनाने में भी सहायता मिलेगी। इसके परिणामस्वरूप, सोशल सिक्योरिटी योजनाएं और भी अधिक व्यापक रूप से प्रसारित होने की उम्मीद है। यह सुविधा समाज के सभी वर्गों को आर्थिक सुरक्षा प्राप्त करने में मदद कर सकती है, जिससे समाज का सामूहिक उत्थान हो सके।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

SBI Bank की बज़ार में प्रमुखता :-

SBI वर्तमान में भारतीय बाजार में सबसे बड़ा सरकारी बैंक है। इसके पूंजीकरण, जमा, शाखा, ग्राहक और कर्मचारी आदि क्षेत्र में यह अन्य सभी बैंकों से आगे है। पूंजीकरण की दृष्टि से, एसडीएफसी बैंक ने हाल ही में एसबीआई को पार कर लिया है। जून 2023 तक के आंकड़ों के अनुसार, एसबीआई के पास 45.31 लाख करोड़ रुपये से अधिक के जमा हैं, जबकि उसने 33 लाख करोड़ रुपये से अधिक के ऋण दिए हैं।

संक्षिप्त में, एसबीआई की नई सुविधा का आयोजन ग्राहकों के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है जो उन्हें सोशल सिक्योरिटी स्कीमों से जोड़ने में मदद करेगा। यह सुविधा बैंक ग्राहकों के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया को आसान और तेज बनाती है, जो समाज के सभी वर्गों के लिए आर्थिक सुरक्षा प्राप्त करने में महत्वपूर्ण है।

Leave a Comment

Close Visit pukhtakhabar.in

whatsapp script.txt Displaying whatsapp script.txt.